आनन्दनगर के गैरकानूनी धरना प्रदर्शन को अतिशीघ्र हटायें-भारत रक्षा मंच

शहर की शांति, सुरक्षा के लिये बताया खतरा, जिला प्रशासन से आयोजको पर प्रकरण दर्ज करने की मांग
देवास। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए )के विरोध में शहर के आनन्दनगर में धरना प्रदर्शन किया जा रहा है। इसके विरोध में भारत रक्षा मंच द्वारा कलेक्टर के नाम से ज्ञापन सौंपा गया है।
कलेक्टोरेट में सौंपे गये ज्ञापन में कहा गया है कि देवास के आनन्दनगर में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध में धरना प्रदर्शन किया जा रहा है। विगत 13-14 दिन से बिना किसी स्वीकृति के दिल्ली में शाहीनबाग की तरह किये जा रहे इस धरना प्रदर्शन में धर्म और कौम के आधार पर लोगो को देश और सरकार के विरूद्ध भड़काया जा रहा है। देश को तोडऩे-बॉटने की बातें की जा रही है। जिसके कारण आनन्दनगर क्षेत्र सहित शहर के शांतिप्रिय नागरिको में भय का वातावरण निर्मित हो रहा है। शहर की शांति एवं सुरक्षा को खतरा उत्पन्न हो रहा है। देखा जाये तो सीएए कानून का विरोध ही देश एवं संविधान विरोधी है, क्योंकि इसे संसद के दोनो सदनो ने बहुमत से प्राप्त किया है, और ना ही इस कानून से किसी भी देशवासी की नागरिकता को छीना जा रहा है। धरना प्रदर्शन के माध्यम से भ्रम फैलाते हुए अराजकता, असुरक्षा एवं अशांति पैदा करने का कुत्सित प्रयास किया जा रहा है। भारत रक्षा मंच ने धरना प्रदर्शन को भड़काने वाले कृत्य की कड़ी भत्सर्ना करते हुए मांग की है कि आनन्दनगर में गैरकानूनी तरीके से किये जा रहे धरना प्रदर्शन को वैधानिक तरीके से कार्यवाही करते हुए अतिशीघ्र समाप्त करवाये, ताकि शहर में किसी प्रकार का उन्माद ना फैले, अप्रिय स्थिति निर्मित नहीं हो, शांति, सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था बनी रहे।

Post Author: Vijendra Upadhyay

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− 2 = 1