मवेशी द्वारा फसल खराब करने की बात को लेकर मारपीट करने वाले आरोपीगण को 6-6 माह का सश्रम कारावास

देवास/ न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी जिला देवास द्वारा ग्राम अमरापुरा में मारपीट करने वाले आरोपीगण 1.शंकरलाल पिता मांगीलाल उम्र- 40 वर्ष, 2.महेष पिता मांगीलाल उम्र-32 वर्ष, 3.राहुत पिता शंकरलाल सभी निवासीगण-अमरापुरा, जिला देवास को भा.दं.स. की धारा 323/34 के आरोप में दोषी पाते हुए 6-6 माह का सश्रम कारावास एवं 1000-1000 रूपये के अर्थदण्ड से दण्डित किया गया।
जिला लोक अभियोजन अधिकारी, श्री राजेन्द्र खांडेगर एवं एडीपीओ सुश्री मधुलिका मेव सहायक मीडिया सेैल प्रभारी जिला देवास द्वारा बताया कि फरियादी रमेश ग्राम अमरापुरा, में रहकर खेती करता है। घटना दिनांक 02 जुलाई 2016 को फरियादी अपने खेत पर गाय देखने गया था वहीं पर फरियादी के गांव का रहने वाला व्यक्ति जीवन उसके खेत में उसकी गाय को घेर रहा था।

फरियादी ने अभियुक्त से उसकी गाय को खेत की तरफ लाने से मना किया और फरियादी अपने घर चला गया। इसी बात को लेकर अभियुक्त शंकरलाल, राहुल व महेश आये व फरियादी को मां-बहन की अश्लील गालियां देकर बोले कि फरियादी ने गाय को खेत की तरफ ले जाने से मना क्यों किया, फरियादी ने बोला कि उसकी फसल खराब हो जाती, इतना सुनते ही चारों अभिुक्तगण ने उसके साथ लकड़ी से मारपीट करना शुरू कर दी। जिससे उसे दांहिने हाथ के कंधे व बांये तरफ की पसली व पीठ मे चोंट आई। फरियादी की आवाज सुनकर उसकी पत्नि व उसका पड़ोसी ओमप्रकाश आये।
अभियुक्त राहुल ने फरियादी की पत्नि को धक्का देकर वहां से हटा दिया व अभियुक्त शंकरलाल ने लकड़ी से ओमप्रकाश को मारा, जो ओमप्रकाश के दांहिने हाथ की कलाई में चोंट लगी। मांगीलाल ने आकर बीच-बचाव किया तो ये चारों अभियुक्तगण बोले कि आज तो बच गया है फिर कभी उन्हें गाय निकालने से मना किया तो जान से खत्म कर देंगे। उक्त घटना के बाद फरियादी ने अपनी पत्नि व पड़ोसी ओमप्रकाश के साथ जाकर थाना बी.एन.पी. में घटना की रिपोर्ट दर्ज कराई। फरियादी की उक्त रिपोर्ट के आधार पर थाना बी.एन.पी. में प्रकरण पंजीबद्व कर अभियोग पत्र न्यायालय में प्रस्तुत किया गया।
उक्त प्रकरण में शासन की ओर से सुश्री करूणा आषापुरे सहायक जिला अभियोजन अधिकारी, जिला देवास द्वारा सफल पैरवी संपादित की गई। कोर्ट मोहर्रिर मनोज मौर्य का विषेष सहयोग रहा।

Post Author: Vijendra Upadhyay

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

− 1 = 1