सांसद महेन्द्रसिंह सोलंकी की अध्यक्षता में

जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की बैठक सम्पन्न
देवास 24 जनवरी 2020/ सांसद श्री महेन्द्र सोलंकी की अध्यक्षता में शुक्रवार को जिला पंचायत सभाकक्ष में जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की बैठक सम्पन्न हुई। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, समेकित बाल विकास योजना, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम, एकीकृत विद्युत विकास योजना, राष्ट्रीय कृषि विकास योजना, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण पेयजल योजना तथा सर्वशिक्षा अभियान की विस्तार से समीक्षा की गई। बैठक में विधायक खातेगांव आशीष शर्मा, विधायक बागली पहाड़सिंह कन्नौजे, विधायक हाटपीपल्या मनोज चौधरी, जिला पंचायत अध्यक्ष नरेंद्रसिंह राजपूत, कलेक्टर डॉ. श्रीकान्त पाण्डेय, पुलिस अधीक्षक श्रीमती कृष्णावेणी देसावतु, सीईओ जिला पंचायत श्रीमती शीतला पटले तथा समिति के सदस्यगण एवं विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।
बैठक में सीईओ जिला पंचायत श्रीमती पटले ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत जिले को 6 हजार 836 आवास का लक्ष्य प्राप्त हुआ है, इसमें से 2795 आवास पूर्ण कराये जा चुके हैं तथा 4041 आवास निर्माण कार्य प्रगति पर है। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा बताया गया कि जिले में 320 नलजल योजनाएं स्थापित हैं इनमें से 314 योजनाएं चालू स्थिति में हैं। जीर्ण शीर्ण होने के कारण 6 योजनाएं बंद हैं, जिनकी प्रशासकीय स्वीकृति हेतु प्रस्ताव भोपाल स्तर पर भिजवाये जा चुके हैं। जिले में 9008 हेण्डपम्पों में से 8970 हेण्डपम्प चालू स्थिति में हैं, 38 हेण्डपम्प साधारण खराबी के कारण बंद हैं। सांसद सोलंकी ने बंद हेण्डपम्पों को शीघ्र चालू करवाने के निर्देश दिये।
बैठक में प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की समीक्षा में बताया गया कि योजना अन्तर्गत जिले में कुल 383 सड़कों की स्वीकृति हुई हैं, इनमें से 357 सड़कों का निर्माण पूर्ण हो चुका है तथा 35 सड़कों का कार्य प्रगति पर है। विधायक खातेगांव एवं हाटपीपल्या ने बताया कि उनके क्षेत्रों में पूर्व की स्वीकृत सड़कों में से कुछ सड़कों का कार्य अभी तक शुरू नहीं किया गया है। इस पर सांसद सोलंकी ने निर्देश दिये कि आगामी 15 दिवस में कार्य शुरू करवाकर संबंधित विधायक एवं उन्हें जानकारी भेजी जाये। उन्होंने खराब सड़कों की मरम्मत करने के निर्देश भी दिये।
बैठक में जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास अधिकारी ने बताया कि जिले में पूरक पोषण आहार अन्तर्गत 6 माह से 6 वर्ष के 1 लाख 27 हजार से अधिक बच्चों, 1826 किशोरी बालिकाओं, 14 हजार 166 गर्भवती माताओं एवं 14 हजार 553 धात्री माताओं का लाभान्वित किया गया है। अति कम वजन वाले बच्चों को जिले में संचालित एनआरसी केन्द्रों में भर्ती कर लाभान्वित किया जाता है। बैठक में अधीक्षण यंत्री मध्यप्रदेश विद्युत वितरण कंपनी ने बताया कि जिले में इंदिरा गृह ज्योति योजना अन्तर्गत 2 लाख 30 हजार 433 हितग्राहियों को लाभान्वित किया जा रहा है। इसी तरह पांच अश्व शक्ति तक के एक हैक्टेयर से कम भूमि वाले 36 हजार 680 अजा/अजजा वर्ग किसानों को नि:शुल्क विद्युत प्रदाय किया जा रहा है। 10 अश्व शक्ति तक के किसानों के लिए लागू की गई इंदिरा किसान योजना अन्तर्गत 75 हजार 860 किसानों को लाभान्वित किया गया है। बैठक में जिला आपूर्ति अधिकारी ने बताया कि प्रधानमंत्री उज्जवला योजना अन्तर्गत 1 लाख 11 हजार 187 परिवारों को एसवी जारी की गई, इनमें से 1 लाख 10 हजार 575 परिवारों को गैस कनेक्शन प्रदान किये गये। शेष 612 हितग्राहियों को पोर्टल शुरू होने पर कनेक्शन प्रदान किये जायेंगे।

Post Author: Vijendra Upadhyay

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

65 + = 66