हिंदी भाषा ही नहीं संस्कृति का परिचय है- डॉ जैन

उस्ताद फाउंडेशन ने मनाया हिंदी दिवस
देवास। मातृभाषा उन्नयन संस्थान द्वारा हिंदी पखवाड़ा मनाया गया, जिसके अंतिम दिन देवास के कालानी बाग स्थित कार्यालय में उस्ताद फाउंडेशन द्वारा मातृभाषा व्याख्यान रखा गया। जिसमें मुख्य अतिथि मातृभाषा उन्नयन संस्थान के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ अर्पण जैन अविचल, विशेष अतिथि संतोष पठारे व उस्ताद फाउंडेशन के अध्यक्ष व मातृभाषा संस्थान के जिला प्रमुख धनंजय गायकवाड़ थे।
इस कार्यक्रम में डॉ. जैन द्वारा हिंदी को राष्ट्रभाषा क्यों बनाया जाना चाहिए इस विषय पर व्याख्यान दिया। साथ ही युवाओं से हिंदी को राष्ट्रभाषा बनाने हेतु समर्थन प्राप्त किया। आयोजन में लक्ष्मण जाधव संयोजक प्रदीप कोलनकर, मोंटी जाधव, धीरज राव कोसे, शुभम विजयवर्गीय, मोनू अहीरवाल, पंकज जैन, नारी शक्ति प्रमुख गीतांजलि राठौर, सपना कारपेंटर, श्रुति चंद्रात्रय, आशीष सोनी, महेंद्र देशमुख, सन्नी कारपेंटर, राहुल देशमुख, अंकित सिंह, सुनील ठाकुर, सतीश पंवार, राजेन्द्र वर्मा, कृष्णा सोनी, आशीष शर्मा, सुमित जलवाया, पृथ्वीराज चौहान, शुभम सिंह देवड़ा, नीतेश सोनी, लाखन सिंह चौहान, संदीप परमार, अर्जुनसिंह चौहान, मनीष सोलंकी, अनिलसिंह चौहान आदि युवा सदस्य उपस्थित थे। कार्यक्रम में सभी ने हिंदी में हस्ताक्षर करने का संकल्प लेकर हिंदी को राष्ट्रभाषा बनाने के लिए मातृभाषा उन्नयन संस्थान को समर्थन दिया। उक्त जानकारी फाउंडेशन के विस्तार प्रमुख दामोदर राव जाधव ने दी।

Post Author: Vijendra Upadhyay

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

25 − 20 =