खुशियों की दास्तां-घर पहुंचने की व्यवस्था से हम सब खुश हैं

-जिला प्रशासन की व्यवस्था देखकर प्रसन्न हुए प्रवासी मजदूर व श्रमिक
-मामा जी ने भेजी है बस तो अब चिंता किस बात की, अब पहुंच जाएंगे हम अपने अपने गांव

देवास 30 अप्रैल 2020/ प्रदेश सरकार द्वारा देश व्यापी लॉक डाउन में अन्य राज्यो में फंसे मजदूरों को अपने राज्य में लाने की कार्यवाही की जा रही है। साथ ही अन्य राज्यों के श्रमिकों और मजदूरों को भी उनके घर भेजने की व्यवस्था की राज्य सरकार द्वारा की जा रही है। इसके लिए बस के द्वारा पर्याप्त सुविधाओं के साथ उन्हें अपने घर तक पहुंचाने का कार्य प्रशासन द्वारा किया जा रहा हैं।
कलेक्टर डॉ श्रीकान्त पांडेय के मार्गदर्शन व एसडीएम अरविंद चौहान के नेतृत्व में गुरुवार को मंडी धर्मशाला देवास से बस द्वारा उत्तर प्रदेश के करीब 300 श्रमिकों और मजदूरों को उनके घर भेजने की व्यवस्था की गई।
एसडीएम अरविंद चौहान ने बताया कि जिले में दूसरे राज्यों के फंसे श्रमिकों को उनके घर भेजा जा रहा है। इसके लिए 10 बसें उपलब्ध करवाई गई। इन बसों के माध्यम से मजदूरों को उनके घर भेजा जा रहा है। उन्होंने बताया कि सभी मजदूरों और श्रमिकों का मेडिकल परीक्षण किया गया तथा बस से उन्हें रवाना किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि इन श्रमिकों को बस के द्वारा झांसी पहुंचाया जाएगा, वहां से उत्तर प्रदेश सरकार उन्हें उनके स्थान तक पहुंचाएगी।

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान का ह्रदय से आभार

श्रमिकों का कहना है कि मैं यहां काम करने आए थे कोरोना महामारी के चलते देशव्यापी लॉक डाउन लगाया गया। इस लॉक डाउन की वजह से हम यहां फंस गए थे और चिंता सता रही थी कि कब लॉकडॉउन खुलेगा कब घर जाएंगे। परंतु मध्य प्रदेश के मुखिया श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा हमारी चिंता करते हुए हमें अपने घर पहुंचाने का फैसला लिया आज हम सब मजदूर और श्रमिकों को बस के माध्यम से हमें हमारे घर भेजा जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन द्वारा सभी मजदूरों के लिए भोजन, पानी की अच्छी व्यवस्था भी की गई है। हमे हमारे परिवार के पास पहुंचाने के लिए मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान प्रदेश सरकार के साथ स्थानीय जिला प्रशासन का सहयोग मिला उसके लिए हम प्रशासन को धन्यवाद ज्ञापित करते है।

Post Author: Vijendra Upadhyay

Leave a Reply