देवास जिले में बागली एवं खातेगांव में हुआ मध्यस्थता केन्द्र (मीडिएशन सेंटर) का लोकार्पण, शीघ्र होगा विवादों का निराकरण

देवास, 04 जुलाई 2020राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली एवं मध्‍यप्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा वैकल्पिक विवाद समाधान अंतर्गत विवादों का शीघ्र और सरलता से समाधान करने के लिए ’’मध्यस्थता’’ की एक सुगम व्यवस्था लागू की गई है। इसके लिए मध्‍यप्रदेश में न्यायालय परिसर में मध्यस्थता केन्द्र स्थापित किए गए हैं।  देवास जिले में शनिवार को तहसील न्यायालय परिसर बागली एवं खातेगांव में नवनिर्मित मध्यस्थता केन्द्र (मीडिएशन सेंटर) भवन का ऑनलाईन ई-लोकार्पण मुख्य न्यायाधिपति मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय जबलपुर एवं मुख्य संरक्षक मध्‍यप्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण न्यायमूर्ति अजय कुमार मित्तल एवं प्रशासनिक न्यायाधिपति मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय जबलपुर एवं कार्यपालक अध्यक्ष मध्‍यप्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण संजय यादव की गरिमामयी उपस्थिति में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से किया गया। 

       इस अवसर पर सदस्य सचिव मध्‍यप्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण श्रीमती गिरीबाला सिंह,  जिला न्यायाधीश एवं अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण देवास योगेश कुमार गुप्ता, विशेष न्यायाधीश रमेश कुमार श्रीवास्तव, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण देवास शमरोज खान, अपर जिला न्यायाधीश एवं अध्यक्ष तहसील विधिक सेवा समिति बागली राजकुमार यादव, अपर जिला न्यायाधीश एवं अध्यक्ष तहसील विधिक सेवा समिति खातेगांव मनोज कुमार तिवारी, अपर जिला न्यायाधीश गंगाचरण दुबे सहित बागली एवं खातेगांव के न्यायाधीशगण उपस्थित थे।

Post Author: Vijendra Upadhyay