वृद्धाश्रम के वृद्धजन एवं दिव्यांगों ने किया बारात का स्वागत

गोधा परिवार की अनूठी पहल
देवास। शहर के गोधा परिवार में अनिल गोधा की बिटिया उपासना की शादी में श्री गोधा ने अनूठी पहल करते हुए शहर के वृद्धाश्रम में जो वृद्धजन जो कि अपने परिवार दूर रहे हैं उन्हें एक पारिवारिक माहौल देने के उद्देश्य से एवं दिव्यांगों को अपनी खुशी में शामिल करने के लिये आमंत्रित किया। श्री गोधा ने बताया कि हमारा उद्देेश्य था कि जो भी वृद्धजन अपने परिवार से दूर कर दिए गए है या किसी कारण से परिवार से अलग है उन्हें परिवार जैसा माहौल मिले। इसके लिये परिवार ने निर्णय लेकर वृद्धजनों से ही बारात की अगवानी करवाई । वृद्धजनों ने भी खुशी खुशी बारात की अगवानी की तथा दुल्हा दुल्हन को आशीर्वाद दिया तथा कन्यादान किया। तत्पश्चात सभी को बड़े ही प्रेम से भोजन करवाया । वृद्धाश्रम के 96 वर्षीय भेरू सिंह ने कहा कि अपनी जिंदगी में मैने पहली बार किसी बारात की अगवानी की है क्योंकि उनके कोई बच्चे नहीं है। वृद्ध रवि प्रकाश ने बताया कि बरसों बाद मुझे बारात का स्वागत करने का मौैका मिला जिससे मुझे मेरा भरा पूरा परिवार याद आ गया, इसके लिये मैं इस परिवार का आभारी हूँ। वृद्धाश्रम के संचालक दिनेश चौधरी ने गोधा परिवार का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि पहली बार किसी ने वृद्धजनों को इस तरह का सम्मान दिया है। इस अवसर पर उपस्थित एस कुमार के मालिक शंभुकुमार कासलीवाल दंपत्ति ने कहा कि हमनेे कई शादियां देखी है मगर इस तरह का आयोजन पहली बार देखा है। अगर सभी लोग अपने बुजुर्र्गो का सम्मान एवं उनकी खुशी का ध्यान रखें तो वृद्धाश्रम खोलने की जरूरत ही नहीं पड़ेगी। शादी में कई प्रतिष्ठित लोग, राजनीतिक हस्तियां उपस्थित रहीं।

Post Author: Vijendra Upadhyay

Leave a Reply