देवास जिले की बागली उप जेल से फरार कैदियों की जांच हेतु कलेक्टर श्री शुक्ला ने जांच संस्थित गठित की

देवास 13 सितम्बर 2020/ दिनांक 12 सितंबर को बागली उप जेल से 2 कैदी दीवार फांद कर फरार होने की घटना घटित हुई थी। उक्त घटना की दंडाधिकारी जांच हेतु कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी चंद्रमौली शुक्ला ने जांच संस्थित गठित की है। कलेक्टर श्री शुक्ला ने अनुविभागीय अधिकारी बागली अरविंद चौहान को जांच प्रभारी बनाया है तथा उन्हें आदेशित किया है कि वह जांच की पूरी जानकारी 15 दिवस के अंदर प्रस्तुत करें।
कलेक्टर श्री शुक्ला ने आदेशित किया है कि घटना किन परिस्थितियों में घटित हुई। सुरक्षा संबंधी कमियां जिसके कारण घटना घटित हुई। घटना के लिए कौन-कौन अधिकारी व कर्मचारी उत्तरदाई है तथा घटना के रोके जाने के उपाय के बारे में जानकारी प्रतिवेदन बनाकर प्रस्तुत करें।

ऐसे फरार हुए थे आरोपी

शनिवार की शाम को बागली जेल में उस समय हलचल मच गई, जब जेल में बंद दो कैदी संतरियों को चकमा देकर फरार हो गए, जिसकी तलाश प्रारंभ कर दी गई है। प्राप्त जानकारी के अनुसार बागली उपजेल में अवैध कारोबार में पकड़े गए 32 वर्षीय मुकेश पिता लोबारिया भिलाला निवासी ग्राम पुतलीपुरा थाना उदयनगर एवं दुष्कर्म के मामले में बंद छोटिया उर्फ छोटूलाल निवासी कैलाश भिलाला 22 वर्ष निवासी ग्राम केवटियापानी थाना उदयनगर अचानक मौका पाकर फरार हो गए। दोनों कैदियों के भागने के बाद जेल प्रशासन अलर्ट हो गया और कैदियों की तलाश प्रारंभ कर दी।

Post Author: Vijendra Upadhyay