युवा देवास दर्शन के 16 सदस्यों ने वैक्सीनेशन के पूर्व किया रक्तदान

  • विश्व रक्तदान दिवस पर रक्तदान शिविर आयोजित कर कोरोना योद्धा को दी श्रद्धांजलि

देवास। खून की कमी झेलते मरीजों की जान बचाने के लिए संस्था युवा देवास दर्शन के सदस्यों पर इस तरह जुनून सवार है कि प्रतिदिन रक्तदान कर इस महादान के अनुष्ठान में अपनी आहुति दे रहे है। रक्तदान सहित अन्य सामाजिक गतिविधियों में हमेशा अग्रणी रहने वाली संस्था युवा देवास दर्शन शिक्षण एवं सामाजिक कल्याण समिति को रक्तदान करते-करते 12 वर्ष से अधिक समय हो गया है। संस्था संस्थापक जितेन्द्र पटेल नीतिन ने बताया कि कोरोना काल में लोग जहां शरीर की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में लगे थे तो वहीं अपनी चिंता छोडक़र संस्था के रक्तवीर दूसरों की जान बचाने में लगे रहे। संस्था के सदस्यों दिन हो या रात हर समय हर परिस्थिति में रक्तदान के लिए तत्पर रहते है। 14 जून को विश्व रक्तदान दिवस पर संस्था ने रक्तदान महादान के संकल्प को आगे बढ़ाते हुए जिला अस्पताल में रक्तदान शिविर आयोजित किया।

शिविर में संस्था के प्रकाश गौड़, महेन्द्र सिंह ठाकुर, सीमा चौहान, भावेश चौहान, दिनेश गिरी, वरुण तिवारी, अतुल परमार, मंगल रेनिवाल, लखन बनसोडे, अश्विन सूर्यवंशी, अभिषेक रघुवंशी, तुषार मोहरी, विजय गेहलोत, गोपी पटेल, नरेन्द्र शर्मा, समता राठौर कुल 16 सदस्यों ने वैक्सीनेशन कराने के पूर्व रक्तदान किया। जिससे रक्त की कमी न हो और दूसरे मरीजों की जान बचाई जा सके। शिविर के दौरान संस्था ने जिला अस्पताल के ब्लड बैंक में कार्यरत कोरोना के कारण शहीद हुई ब्लड बैंक ऑफीसर डॉ. खदीजा शेख को भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित की। शिविर के सफल आयोजन पश्चात संस्था संवरक्षक देवेन्द्र नवगोत्री, खुशबू पेमल, अभिषेक परमार, दिलीप मालवीय, कमल चौहान, जयंत परिडय़ार, शाहरूख शेख, विनोद राठौर ने डॉक्टर अतुल बिडवई, अनुप डाबी, मुकेश चौधरी, सिस्टर जोली साजन, विजय वर्मा आदि का अभिवादन किया। 

Post Author: Vijendra Upadhyay