जिला अस्पताल का कायाकल्प होने पर गणेश पूजन व फीता काटकर कर किया उद्घाटन

देवास जिला अस्पताल  स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में एक उदाहरण के रूप में प्रस्तुत होगा, इसका लाभ देवास की जनता ही नहीं आसपास की जनता को भी मिलेगा – सांसद श्री सोलंकी


————-
कोरोना की संभावित तीसरी लहर के लिए हम पूरी तरह से तैयार हैं, आईसीयू अब 40 बेड का होगा- विधायक श्रीमती पवार
————
जिला चिकित्सालय के चिकित्सकों एवं अन्य स्टाफ को कोरोना काल  में निरंतर सेवाएं देने पर उन्हें सम्मान स्वरूप प्रशंसा पत्र दिए गए
———-

       देवास 18 जुलाई 2021/  देवास जिला चिकित्सालय का कायाकल्प के पश्चात आज रविवार को सांसद महेंद्र सिंह सोलंकी एवं विधायक श्रीमती गायत्री राजे पवार ने गणेश पूजन एवं फीता काटकर अस्पताल का उद्घाटन किया। उद्घाटन के पश्चात जिला चिकित्सालय में मुख्य अतिथि एवं जनप्रतिनिधियों द्वारा ओपीडी क्षेत्र जिसमें एनसी क्लीनिक कक्ष सहित अन्य ओपीडी क्षेत्र चिकित्सक ओपीडी , मेटरनिटी , औषधि वितरण केंद्र, एवं वार्ड  का निरीक्षण किया।  कायाकल्प अभियान के तहत जिला चिकित्सालय में किए जा रहे कार्यों की विस्तृत जानकारी दी गई।


          इस दौरान कलेक्टर चंद्रमौली शुक्ला, नगर निगम आयुक्त विशाल सिंह, एसडीएम प्रदीप सोनी, राजीव खंडेलवाल, सीएमएचओ डॉ एमपी शर्मा, सिविल सर्जन डॉ. विजयकुमार सिंह, आरएमओ डॉ. एमएस गोसर,  दुर्गेश अग्रवाल,  राजेश यादव, मनीष सोलंकी, गणेश पटेल, भरत चौधरी, जॉन डीयर कंपनी के पदाधिकारीगणों कामेश शर्मा, अमिश सम्पत, मोहन शर्मा सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण व संबंधित अधिकारीगण उपस्थित थे। 
         

कार्यक्रम में सांसद महेंद्र सिंह सोलंकी ने कहा कि कोरोना काल के लिए समय जिला प्रशासन, डॉक्टर्स, नर्सेस, पैरामेडिकल स्टाफ, सफाई कर्मचारी, मीडिया सहित हॉस्पिटल के प्रत्येक कर्मचारी ने इस कोराना काल कि इस मुसीबत में सबने  मेहनत की जिससे हम आज सुरक्षित हैं। उन्होंने कहा कि हमारे अनेक ऐसे साथी जो हमारे बीच अब नहीं है उन्हें नमनकर श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। कोरोना काल में केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार निरंतर बचाव में कार्य करती रही है। हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 18-20  घंटे काम किया, इस प्रकार हमें प्रेरणा दी । कोरोना काल मे ऑक्सीजन की कमी हर जगह हो रही थी उसको देखते हुए प्रधानमंत्री जी ने थल मार्ग, वायु मार्ग, जलमार्ग से ऑक्सीजन पहुंचाई एवं लाखों लोगों का जीवन बचाया। अस्पतालों में पर्याप्त उपकरणों की व्यवस्था की जिसमें ऑक्सीजन प्लांट वेंटिलेटर या अन्य उपकरणों के लिए निरंतर प्रयास किया। हमारे देवास में भी केंद्र सरकार की ओर से ऑक्सीजन प्लांट स्वीकृत हुआ है इंस्टास्लेशन होने के बाद यहां के नागरिकों को उसका लाभ मिलने लगेगा। 
उन्होंने कहा कि कलेक्टर श्री शुक्ला ने जो हमें प्लानिंग बताई थी उसके लिए हमने सांसद निधि से राशि दी हमने देखा जिला अस्पताल का उन्नयन कायाकल्प उससे भी अच्छा हुआ। जिला चिकित्सालय का बहुत ही सुंदर उन्नयन हुआ है इसका लाभ देवास की जनता ही नहीं आसपास की जनता को भी मिलेगा जिस प्रकार की व्यवस्था आज हम लोगों ने देखी है। उस प्रकार की व्यवस्था के लिए हम सबको मिलकर सकारात्मक रूप से इस व्यवस्था को बनाए रखना होगा। सांसद सोलंकी ने कोरोना की दूसरी लहर में जिन लोगों ने सकारात्मक रूप से कार्य किया एवं जिला अस्पताल के उन्नयन में उन्हें जिन्होंने भी फंड दिया उन सभी का उन्होंने धन्यवाद किया। जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की प्रशंसा करते हुए कहा कि जिले में बहुत अच्छा काम किया जा रहा है। कोविड-19 की रोकथाम एवं बचाव उपचार व्यवस्था में देवास जिले में बहुत अच्छा काम किया गया है और कोरोनो को ज्यादा फैलने से रोका गया। देवास जिला चिकित्सालय अन्य जिलों के लिए उदाहरण बनेगा। इंफ्रास्ट्रक्चर और स्वास्थ्य सेवाओं के क्षेत्र में एक उदाहरण के रूप में प्रस्तुत होगा। यदि कोरोना की सम्भावित तीसरी लहर आती है तो उससे निपटने में हमें तैयार है।
        

कार्यक्रम में देवास विधायक श्रीमती गायत्री राजे पवार ने कहा कि कोरोनावायरस की लहर का कहर हम सब ने देखा। उस समय पर्याप्त ऑक्सीजन की व्यवस्था के लिए अनेक प्रयास किए गए। मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा हम विधायकों को जनप्रतिनिधियों को फ्री हैंड दिया गया स्वास्थ्य व्यवस्थाओं के लिए जिसके तहत हमने विधायक निधि से पहला ऑक्सीजन प्लांट देवास जिला चिकित्सालय में लगवाया एवं विद सिविल वर्क के लिए विधायक निधि से राशि दी गई । प्रशासन एवं जनप्रतिनिधियों के अथक प्रयासों से बहुत कम समय  में जिला अस्पताल का कायाकल्प हुआ। इसमें नया मेटरनिटी विंग बच्चों के लिए बेहतर आईसीयू बनने जा रहा है जो आइसीयू 10 बेड का था उसे बढ़ाकर 40 बेड का है किया जा रहा है। अगर करोना की संभावित तीसरी लहर आती है तो हम उससे मुकाबला करने के लिए तैयार हैं। उन्होंने कहा कि जिला अस्पताल का जो कायाकल्प हुआ है उसके लिए विशेष रणनीति के तहत व्यूह रचना जिले के कलेक्टर, कमिश्नर, एसडीएम, सीएमएचओ, सिविल सर्जन ने की इसी के साथ इसको वही भौतिक रूप देने के लिए देवास की कंपनियों ने पूर्ण सहयोग किया है जॉन डीयर कंपनी द्वारा जिला अस्पताल 2 करोड़ से ऊपर की मदद की गई जिसमें जिला चिकित्सालय हेतु बड़ी बड़ी-मशीनों एवं उपकरणों  लगाए तथा अन्य कार्य में सहयोग किया है। उन्होंने देवास की जनता की ओर से सभी कंपनियों का धन्यवाद दिया।
      विधायक श्रीमती पवार ने कहा कि कलेक्टर चंद्रमौली शुक्ला ने अथक प्रयास कर सभी के साथ मिलकर सम्मिलित रूप से जिला अस्पताल की व्यू रचना एवं प्लानिंग कर सांसद निधि और विधायक निधि की मांग की उनकी प्लानिंग को देखते हुए हम सभी ने जनप्रतिनिधियों ने सहयोग किया और आज देवास जिला अस्पताल का कायाकल्प हुआ जो अन्य जिलों के लिए एक उदाहरण बनेगा लेकिन अगर आती भी है तो उसके लिए हम पूरी तरह से तैयार है ।
 

कार्यक्रम में अतिथियों स्वागत किया। साथ ही स्वागत जिला प्रशासन, स्वास्थ विभाग की ओर से  मुख्य अतिथियों द्वारा जॉन डीयर कंपनी के प्रतिनिधियों, प्रबंधकों का  सम्मान कर  स्वागत किया गया। जॉन डीयर कंपनी द्वारा जिला अस्पताल में 2 करोड़ से ऊपर की मदद की गई जिसमें जिला चिकित्सालय हेतु मशीने, उपकरणों एवं अन्य सहयोग के लिए उनको सम्मानित करते हुए जिला प्रशासन की ओर से उन्हें प्रशंसा प्रमाण पत्र दिया गया। उल्लेखनीय है कि जिला अस्पताल के कायाकल्प में जॉन डीयर कंपनी के अलावा स्वास्थ्य विभाग द्वारा भी राशि दी गई है। इसके अलावा जनसहयोग से भी अस्पताल के कायाकल्प में सहयोग दिया गया।
   कोरोना काल के दौरान जिला चिकित्सालय के चिकित्सकों सहित अन्य स्टाफ ने कड़ी मेहनत के साथ कार्य किया। अनेक चिकित्सक एवं स्टाफ जिन्होंने सेवा देने के दौरान स्वयं भी करना से संक्रमित हुए एवं संक्रमण मुक्त होने के पश्चात भी निरंतर सेवाएं देते जा रहे हैं। उन्होंने लोकहित में अपने पदेन कर्तव्य का अच्छी तरह से निर्वहन किया। सभी का कार्य सराहनीय है  निरंतर कार्य कर रहे हैं। कार्यक्रम में अतिथियों द्वारा चिकित्सकों एवं अन्य स्थानों को सम्मानित करते हुए प्रशंसा पत्र दिए गए। कार्यक्रम का संचालन आरएमओ डॉ एम एस गोसर ने किया एवं आभार सीएमएचओ डॉक्टर एमपी शर्मा ने माना।

Post Author: Vijendra Upadhyay