डरा धमका कर शराब पीने के लिए पैसे मांगने वाले आरोपी की जमानत निरस्त

देवास/ जिला अभियोजन अधिकारी राजेन्द्र खाण्डेगर ने बताया कि फरियादी जयनारायण उसकी पत्नी के साथ थाना नेमावर आकर मौखिक रिपोर्ट किया कि मैं तीन टापरी थाने के पीछे नेमावर रहता हूॅ। मजदूरी करता हूॅ। आज दिन के 10ः00 बजे में घर से नेमावर बजार जा रहा था तभी राधाकिशन पिता झब्बू ने मेरा रास्ता रोका और मुझे गंदी-गंदी गालिया देकरबोला कि कहा जा रहा है तो मैंने बोला की मैं बाजार करने के लिए जा रहा हूॅ तु मुझे गाॅली क्यों दे रहा है तो वह बोला की मुझे शराब पीने के लिए अभी दो सौ रूपये दे तो मैंने कहा की मेरे पास पैसे नही है तो वह मेरे साथ मारपीट करने लगा जिससे मुझे गाल पर व पीठ पर चोट लगी। मै चिल्लाया तो मेरी पत्नी आई जिसने बीच बचाव किया तो आरोपी राधाकिशन वहां से जाने लगा और जाते-जाते जान से मारने की धमकी देकर गया। जिसकी रिपोर्ट करने आया हूॅ। थाना नेमावर में अपराध पंजीबद्ध कर जांच के दौरान आरोपी राधाकिशन पिता झब्बू को गिरफ्तार किया जाकर न्यायालय में पेश किया गया।

आरोपी द्वारा जमानत हेतु न्यायालय न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी तह. खातेगांव  के समक्ष जमानत आवेदन प्रस्तुत किया गया। जहां शासन की ओर से एडीपीओ रमेश कारपेन्टर द्वारा वीडियो का्रफ्रेसिंग के माध्यम से आरोपी की ओर से प्रस्तुत जमानत आवेदन का विरोध कर जमानत आवेदन निरस्त कराते हुए आरोपी को जेल भिजवाया गया।

Post Author: Vijendra Upadhyay