धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाले आरोपी की जमानत निरस्त

देवास /जिला अभियोजन अधिकारी राजेन्द्र खाण्डेगर ने बताया कि फरियादी विशालसिंह शेखावत निवासी खातेगांव ने अपने साथीयों के साथ थाना में आकर एक आवेदन दिया  जिसमें धर्म विशेष के लिये अमर्यादित पोस्ट करने वाले के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज करने का निवेदन किया गया था कि मैं प्रार्थी विशाल शेखावत निवासी खातेगांव निवेदन करता हुॅ कि आज दिनांक 06.08.2020 को मेरे दोस्त मुकेश बारवाल ने उनके व्हाट्सएप नं. से मेरे व्हाट्सएप नं. पर सलमान नि. खातेगांव के द्वारा उसके व्हाट्सएप स्टेटस पर हिन्दु धर्म ग्रंथ को लेकर की गई अमर्यादित पोस्ट को शेयर किया। जिससे मेरी व मुकेश बारवाल की धार्मिक भावना को ठेस पहुंची है। उक्त पोस्ट सलमान के द्वारा कल दिनांक 05.08.2020 के 06ः32 पीएम को शेयर की गई है। मैनें उक्त पोस्ट की हार्ड काॅपी निकलवाकर थाने पर आया हूॅ जिस पर कार्यवाही की जावे। थाना खातेगांव में अपराध पंजीबद्ध कर जांच के दौरान आरोपी सलमान निवासी खातेगांव को गिरफ्तार किया जाकर न्यायालय में पेश किया गया।

आरोपी द्वारा जमानत हेतु न्यायालय न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी तह. खातेगांव के समक्ष जमानत आवेदन प्रस्तुत किया गया। जहां शासन की ओर से एडीपीओ रमेश कारपेन्टर द्वारा वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से आरोपी की ओर से प्रस्तुत जमानत आवेदन का विरोध कर जमानत आवेदन निरस्त कराते हुए आरोपी को जेल भिजवाया गया।

Post Author: Vijendra Upadhyay