देश के 1008 जैन मंदिरों के साथ श्री शंखेश्वर पाश्र्वनाथ मंदिर में मनाया प्रेम सूरीश्वरजी का 50 वां स्वर्गारोण दिवस

साध्वीजी देवेन्द्र श्रीजी के सानिध्य में विभिन्न मंत्रोच्चार के साथ हुआ महाअभिषेक
देवास। भारत भर के 1008 जैन मंदिरों के साथ श्री शंखेश्वर पाश्र्वनाथ मंदिर तुकोगंज रोड पर आचार्य श्री प्रेम सूरीश्वरजी म.सा. का 50 वां स्वार्गारोहण दिवस 11 मई शुक्रवार को उत्साहपूर्वक मनाया गया।
इस अवसर पर साध्वीजी देवेन्द्रश्रीजी के सानिध्य में विभिन्न मंत्रोच्चार के साथ प्रभुजी के 27 महाअभिषेक का दिव्य अनुष्ठान हुआ । जिसमें बड़ी संख्या में समाजजन उपस्थित थे। विभिन्न दुर्लभ औषधियों से महाअभिषेक किया गया। तत्पश्चात अष्टप्रकारी पूजन की गई जिसमें समाजजनों ने भक्तिभावपूर्ण अक्षत,फल, नैवेद्य आदि समर्पित किए। भक्तिगीत की प्रस्तुति साध्वी श्री शासनज्योति जी द्वारा दी गई। जिस पर भक्तजन झूमते नाचते गाते रहे। प्रभावना एवं संघ पूजन भी की गई। इसी के साथ देवास जिले के टोंक, सिया, शिवपुर, चापड़ा, हाटपीपल्या, करनावद, बागली आदि स्थानों पर भी विभिन्न धार्मिक अनुष्ठानों का आयोजन हुआ। उक्त जानकारी देते हुए प्रवक्ता विजय जैन ने बताया कि 2500 साधु साध्वी के गुरू प्रेम सूरीश्वरजी अनुयोगाचार्य श्री वीररत्न विजयजी म.सा. के भी दादा गुरू है। उनकी 50 वीं पुण्यतिथि स्वार्गारोहण दिवस के रूप में देेशभर में धूमधाम से मनाई गयी ।
इस अवसर पर विलास चौधरी, अशोक जैन मामा, शैलेन्द्र चौधरी, प्रेमचंद शेखावत, दीपक जैन, अतुल जैन, भरत चौधरी, मदनलाल कटारिया, मुकेश चौधरी, विनित चौधरी, अजय मूणत, राकेश तरवेचा, राजेन्द्र जैन, मिनेश कटारिया, मनीष सेठिया, जयमित जैन, सुधीर जैन, वीरेन्द्र जैन, संतोष सेठिया, अशोक जैन आदि सहित बड़ी संख्या में महिलाएं उपस्थित थीं।

Post Author: Vijendra Upadhyay

Leave a Reply